नये कानूनों के संबंध में एडीजी एलओ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए ली बैठक

Oplus_0

भारतीय साक्ष्य अधिानियम के सफ़ल क्रियान्वयन एवं अपराध की समीक्षा भी बैठक के दौरान की गई

अंशुमन ने विवेचनाओं को निर्धाारित समयावधि के अंदर गुण-दोष के आधाार पर निस्तारित करने के दिए निर्देश जिन अधिकारियों और कर्मचारियों ने नए कानून की नही ली जानकारी पन्द्रह दिन में उन्हे प्रशिक्षण करवाया जाए मालखानों में रखे सभी माल मुकदमातियों का का निरीक्षण करवाकर उनका निस्तारण भी समय से करने का काम करें

देहरादून,(शाह टाइम्स) । एक जुलाई से पूरे देश के अंदर लागू होने वाले नए कानूनों भारतीय न्याय संहिता 2023 और भारतीय साक्ष्य अधिानियम के सफ़ल क्रियान्वयन को लेकर शनिवार को पुलिय मुख्यालय के सभागार में अपर पुलिस महानिदेशक अपराधा एवं कानून व्यवस्था ने प्रदेश के सभी 13 जनपदों के एसएसपी और एसपी के साथ वीड़ियों काफ़्रेंसिंग के माधयम से बैइक आयोजित की और तीन नए कानूनों की उनकों जानकारी दी।

केंद्र सरकार द्वारा कानून में संसोधान करते हुए तीन नए कानून पारित किए थे और यह एक जुलाई 2024 से लागू किए जाने की घोषणा की थी। कानून में बदलाव के बाद पूरे उत्तराखंड राज्य के अंदर तीनों नए कानूनों को लेकर भारतीय न्याय संहिता और भारतीय साक्ष्य अधिानियम 2023 के सफ़ल क्रियान्वयन को लेकर कई प्रकार की अधाीनस्थ पुलिसकर्मियों को टेªनिंग दी गई थी। चुकीं एक जुलाई से उक्त तीनों कानून लागू होने जा रहे है इसकों देखते हुए अपर पुलिस महानिदेशक अपराधा एवं कानून व्यवस्था ए-पी-अंशुमन ने शनिवार को पुलिस मुख्यालय के सभागार में राज्य के सभी 13 जनपदों के एसएसपी और एसपी के साथ वीड़ियों काफ़्रेंसिंग के जरिए बैठक आयोजित की।

बैठक में एडीजी एलओ ने बैठक में मौजूद सभी अधाीनस्थों को निर्देश दिए कि एक जुलाई से लागू होने वाले तीनों कानूनों को देख उनके क्रियान्वयन हेतु पूर्ण तैयारियों को अमली जामा पहनाया जाए। इसी के साथ अपराधाों में कमी लाने और अपराधाों के शीधा्र अनावरण कर विवेचनाओं का निर्धाारित समयावधिा के अंदर गुण-दोष के आधाार पर निस्तारिण करने के निर्देश दिए। एडीजीने इसके अलावा सभी जनपदों के पुलिस कप्तानों को उन्होंने निर्देश दिए कि तीनों नए कानून के लागू होने से पहले अपने-अपने जनपदों में घटनाओं का मॉक ड्रिल करवाते हुए पूरी तैयारियां सुनिश्चित करें।

उन्होंने निर्देश दिए कि विवेचनाधिाकारियों द्वारा किसी भी स्तर पर चूक नहीं की जानी चाहिए। इसके अलावा सभी जनपदों के अधिाकारियों और कर्मचारियों को तीनों नए कानूनों की पूरी जानकारी हो यह भी सुनिश्चत कर लिया जाए। अपर पुलिस महानिदेशक अपराधा एवं कानून व्यवस्था ए-पी-अंशुमन ने वीडियों काफ़्रेंसिंग के जरिए ली जा रही बैठक में सभी को इस बात के निर्देश दिए कि वह तीनों नए कानूनों के क्रियान्वयन के लिए कोतवाली और थाना स्तर पर सीएलजी, ग्राम चौकीदारों,ग्राम सुरक्षा समिति,जनप्रतिनिधिायों, अधिावक्ताओं के अलावा अन्य के साथ बैठकों को कर उसके लिए जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन भी करें।

उन्होंने सभी जनपदों के वरिष्ठ पुलिस अधाीक्षकों और पुलिस अधाीक्षकों को निर्देशित किया कि वह एक जुलाई से पूर्व मॉनिटरिंग सैल की बैठक कराकर उस पर विचार-विमर्श भी करें। अंशुमन ने सभी अधाीनस्थों को निर्देश दिए कि जिन अधिाकारियों और कर्मचारियों ने तीनों नए कानूनों के संबंधा में प्रशिक्षण नहीं लिया है उन सभी को पन्द्रह दिन के अंदर प्रशिक्षण करवाने का काम करें। उन्होंने सभी पुलिस कप्तानों को निर्देश दिए कि वह अपराधाों की नियमित रूप से समीक्षा करें और अपराधाों के शीधा्र अनावरण्या निरोधाात्मक कार्यवाही एवं अपराधों की रोकथाम के लिए कार्य करना सुनिश्चित करें।

उन्होंने कहा कि जिन प्रकरणों को निर्धाारित अवधि के अंदर निस्तारण नहीं हुआ है उनका अविलम्व निस्तारण करवाना सुनिश्चित करते हुए अभियुक्तों की भी शीध्र गिरफ्तारी करवाना सुनिश्चित कर उन्होंने कहा कि जांच हेतु विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजे गए प्रदेश की सभी जांचों का शीध्र जो रिपोर्ट मंगवाकर प्रकरणों का निस्तारण करवाया जाए। 

एडीजी एलओ ने महिलाओं से संबंधिात अपराधाों का अनावरण कराकर समयान्तर्गत आरोप पत्र संबंधिात न्यायालयों को प्रेषित किया जाए। उन्होंने गुमशुदाओं की बरामदगी के लिए अग्रेत्तर आवश्यक कार्यवाही करवाकर पोस्टमार्टम और पंचायतनामा रजिस्ट्रो को भी अधयावधिाक कराकर उनका डाटा मिलाल करवाएं।अंशुमन ने सभी पुलिस कप्तानों को निर्देश दिए की सड़क दुर्घटनाओं का वह स्वयं समीक्षा करें और सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए कदम उठाए। उन्होंने कोतवालियों, थाने और चौकियों के माल खानों में योग्य कार्मिकों को नियुक्त करें और माल खानों में रखे मालमुकदमाती का मिलान निरीक्षण कराकर उनका समयनुसार निस्तारण करवाएं।

वीडियों काफ़्रेंसिंग के दौरान वहां पर पुलिस महानिरीक्षक अभिसूचना, पुलिस महानिरीक्षक/निदेशक यातायात, पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र के अलावा डीआईजी एसटीएफ सीसीटीएनएस, डीआईजी एलओ,एसएसपी एसटीएफ़, एसएसपी देहरादून और एसपी रेलवे वहां पर मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here