Shah Times

Home Crime भगवान दास शाक्य का शव जंगल में पेड़ से घुटनों के बल बंधा मिला

भगवान दास शाक्य का शव जंगल में पेड़ से घुटनों के बल बंधा मिला

0
भगवान दास शाक्य का शव जंगल में पेड़ से घुटनों के बल बंधा मिला

पुलिस प्रशासन कोई उचित करवाई क्यों नहीं कर रहा है। परिजन प्रदेश के सभी आला अधिकारियो से गुहार कर रहे है।

सहसवान । भगवान दास शाक्य पुत्र स्व: रामप्रसाद शाक्य निवासी- मुराव टोला मोहल्ला-शहवाजपुर, सहसवान चौबीस जून सुबह 10 बजे घर से मोहल्ले के कुछ लोगो साथ जुआ खेलने गये थे लेकिन वो उस दिन घर नहीं आया था तो उनकी माँ- रामप्यारी ने मोहल्ले के लोगो से पूछा था की किसी ने भगवान दास शाक्य को कही देखा है क्या वो कल से घर नहीं आया है तो जो लोगो उसके साथ जुआ खेला था वो उन सभी का कहना है कि उसे हम रात करीब 11 बजे घर पास छोड़ गये थे लेकिन वो घर नहीं आया था।उसके बाद रामप्यारी ने रिश्तेदारों से फोन कॉल द्वारा पता किया लेकिन कहीं कोई पता नहीं चला तो फिर उन्होंने ने पुलिस थाना सहसवान में दिनांक 28 जून को गुमशुदी दर्ज कराई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई थी।

परिजनों का कहना है की भगवान दास शाक्य एक मित्र जो की उस दिन साथ में जुआ खेला था उसे घर बुला कर पूछा था की तुम्हारी कोई बात हुई है क्या भगवान दास से तो उसने मना कर दिया लेकिन उसके फ़ोन ने 7 कॉल देखी गई थी जो दिनांक 24/06/2023 रात 11 बजे की थी यह पता लगते ही वो घर से भाग जंगल की तरफ़ भाग गया था तभी लोगो ने उसका पीछा किया लेकिन उसने तमंचा निकाल कर बोला सब वापस चले जाओ एक तो मार गया है और भी मारे जाओगे। यह सुनकर लोगो ने मैं सनसनी फ़ैल गई और भगवान दास शाक्य को खेतों व जंगलो में खोजना शुरू किया तो एक बगिया पेड़ से गले मे फंदा व घुटनों बल बंधा हुआ शव मिला पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए चील घर भेजा और पोस्टमार्डम रिपोर्ट में मृत्यु के कारण के लिए टिबिया हड्डी को संरक्षित किया गया।

परिजनों ने मृतक भगवान दास शाक्य का कछला गंगा घाट पर अंतिम संस्कार किया उसके बाद दिनांक- 02/07/2023 को कुछ लोगो के ख़िलाफ़ सहसवान थाने ने तहरीर दी और कठोर करवाई की माँग की। लेकिन परिजनों को कोई कार्रवाई होते हुई नज़र नहीं तो फिर दिनांक- 04/07/2023 सिविल लाइन थाना बदायूँ में तहरीर दी लेकिन अभी तक कोई भी उचित करवाई होती नजर नहीं आयी है परिजनों का कहना है की अभी तक पुलिस प्रशासन कोई उचित कार्रवाई क्यों नहीं कर रहा है। परिजन प्रदेश सभी आला अधिकारियो से गुहार कर रहे है कि मृतक भगवान दास शाक्य न्याय मिले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here