कांग्रेस का मैनिफ़ेस्टो जारी, गरीबों को इंसाफ देने का वादा

कांग्रेस ने 2024 के चुनाव के लिए ‘ हाथ बदलेगा हालत’ नारे के साथ आज अपना मैनिफ़ेस्टो पत्र जारी किया और कहा कि यह ‘न्याय पत्र’ है जो देश की जनता को पांच न्याय के साथ 25 गारंटी देता है तथा गरीबों की खुशहाली का वादा करता है।

नई दिल्ली,(Shah Times) । कांग्रेस ने 2024 के चुनाव के लिए ‘ हाथ बदलेगा हालत’ नारे के साथ आज अपना मैनिफ़ेस्टो पत्र जारी किया और कहा कि यह ‘न्याय पत्र’ है जो देश की जनता को पांच न्याय के साथ 25 गारंटी देता है तथा गरीबों की खुशहाली का वादा करता है।

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खडगे, संसदीय दल की नेता सोनिया गांधी, पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, घोषणा पत्र समिति के अध्यक्ष पी चिदंबरम और पार्टी महासचिव संगठन के सी वेणुगोपाल ने शुक्रवार को यहां पार्टी मुख्यालय में संयुक्त रूप से कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी किया और कहा कि घोषणा पत्र न्याय की गारंटी देता है इसलिए इसे ‘न्याय पत्र’ कहा गया है। इसमें सभी देशवासियों से न्याय का वादा है और लोगों को विश्वास दिलाया गया है कि कांग्रेस को वोट देने से पूरे देश के हालात बदल जाएंगे।श्री खडगे ने कहा कि घोषणा पत्र गरीबों को समर्पित है और देश के गरीबों को सम्मान देने का वादा किया गया है।

 इसमें आम लोगों की आर्थिक हालत सुधारने के लिए 5,000 करोड़ रुपए का नया स्टार्टअप फंड देने का भी वादा किया गया है।उन्होंने कहा “हम देश की सामाजिक और आर्थिक गति को आगे ले जाएंगे। किसानों, गरीबों, मजदूरों, महिलाओं और वंचित वर्गों के विकास के बंद दरवाजे खोलेंगे। ये हमारी प्रतिज्ञा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमेशा ही डॉ. मनमोहन सिंह जी के नेतृत्व वाली सरकार की आलोचना करते हैं लेकिन उन 10 वर्षों में कांग्रेस ने मनरेगा,सूचना का अधिकार, खाद्य सुरक्षा, भूमि अधिग्रहण कानून, शिक्षा का अधिकार सहित कई कदम उठाए हैं। मनरेगा और खाद्य सुरक्षा के पीछे  सोनिया गांधी जी का बहुत बड़ा योगदान रहा है। 

मोदी जी इसके मुकाबले अपने 10 साल के कार्यकाल में एक भी काम नहीं कर सके।”पार्टी नेता राहुल गांधी ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा और भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान उन्होंने देश की हालत करीब से देखे हैं और वह जानते हैं कि देश के लोगों के साथ न्याय नहीं हो रहा है इसलिए कांग्रेस पांच न्याय के तहत देशवासियों को 25 गारंटियां देने का वादा करती है उन्होंने कहा कि यह चुनाव लोकतंत्र और संविधान को बचाने तथा इसको ध्वस्त करने वालों के बीच हो रहा है इसलिए जनता को संविधान और लोकतंत्र बचाने के लिए कांग्रेस को वोट देना है। उनका यह भी कहना था कि कांग्रेस और भाजपा के साथ यह जबरदस्त चुनावी जंग है और कांग्रेस इस पूरे दमखम के साथ लड़ेगी और यह चुनाव जीतेगी।

 वेणुगोपाल ने कहा “हमने आज घोषणापत्र जारी कर दिया है। कल यानी शनिवार को हम इसे दो रैलियों के साथ इसे लॉन्च कर रहे हैं। पहली राजस्थान के जयपुर में होगी और दूसरी रैली तेलंगाना के हैदराबाद में आयोजित की जाएगी।”श्री खडगे ने कहा कि पार्टी ने समाज के सभी वर्गों को न्याय देने का वादा किया है। यह घोषणा पत्र न्याय पत्र इसलिए है क्योंकि समाज के हर वर्ग के लिए इसमें 25 गारंटरयां दी गई है और गारंटी कार्ड देश के 8 करोड़ परिवारों तक पहुंच जाएंगे।उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए नारी न्याय की गारंटी दी है। इसके तहत महालक्ष्मी गारंटी की बात कही गई है जिसके तहत गरीब परिवार की एक महिला को हर साल एक लाख रुपए दिए जाएंगे। आधी आबादी, पूरा हक के तहत केंद्र सरकार की नयी नौकरियों में 50 प्रतिशत महिला आरक्षण की व्यवस्था है जबकि शक्ति का सम्मान के तहत आशा, मिड डे मील और आंगनवाड़ी वर्कर्स को ज़्यादा सैलरी, दोगुने सरकारी योगदान से तथा अधिकार मैत्री के तहत महिलाओं को कानूनी हक़ और सरकारी योजनाओं की जानकारी देने वाली एक अधिकार-सहेली, हर पंचायत में होगी और कामकाजी महिलाओं के लिए सावित्री बाई फुले हॉस्टल की सुविधा को दोगुना किया जाएगा।कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार ने किसानों के साथ अन्याय किया है जिसके कारण किसानों को आंदोलन करने के लिए लंबे समय तक सड़कों पर उतरने को मजबूर होना पड़ा है। मोदी सरकार के किसान विरोधी नीति के खिलाफ कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में किसान न्याय की व्यवस्था की है।उन्होंने कहा कि किसान न्याय के तहत किसानों को पांच गारंटियां दी गई है।

 इन गारंटियों में ⁠सही दाम की व्यवस्था के तहत एमएसपी की कानूनी गारंटी, स्वामीनाथन फॉर्मूले के साथ दी जाएगी और किस की कर्ज़ मुक्ति के लिए क़र्ज़ माफ़ी योजना प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए स्थायी आयोग का गठन होगा तथा फसल बीमा भुगतान का फसल के नुकसान की स्थिति में किसान को बीमा का सीधा भुगतान उसके खाते में 30 दिन के अंदर कर दिया जाएगा।किसानों के आर्थिक हालत सुधारने के लिए उन्होंने कहा कि पार्टी ने उचित आयात निर्यात की नीति को महत्व दिया है जिसके तहत किसानों की सलाह से नयी इंपोर्ट-एक्सपोर्ट पॉलिसी बनेगी। इसके अलावा किसान की खेती को जीएसटी से मुक्त रखने की व्यवस्था की गई है जिसके तहत किसान के लिए जरुरी हर चीज से जीएसटी की व्यवस्था को हटा दिया जाएगा।श्री खड़गे ने कहा कि श्रमिकों के लिए श्रमिक न्याय की व्यवस्था की गई है। श्रमिक न्याय में श्रम का सम्मान होगा और श्रमिकों के लिए दैनिक मजदूरी 400 रूपये की जाएगी जो मनरेगा श्रमिकों पर भी लागू होगी। इसमें सबके लिए स्वास्थ्य की अधिकार की भी कांग्रेस गारंटी देता है जिसके तहत 25 लाख का हेल्थ-कवर दिया जाएगा और इसमें मुफ़्त इलाज़, अस्पताल, डॉक्टर, दवा, टेस्ट, सर्जरी की सुविधा उपलब्ध होगी। शहरी रोजगार गारंटी को भी लागू किया जाएगा और शहरों में मनरेगा जैसी योजना शुरू की जाएगी।सामाजिक सुरक्षा को कांग्रेस की नीति का अहम हिस्सा बताते हुए उन्होंने कहा कि श्रमिकों के साथ न्याय होगा और उन्हें सामाजिक सुरक्षा दी जाएगी। इसमें असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए जीवन बीमा और दुर्घटना बीमा की सुविधा होगी तथा सुरक्षित रोजगार की व्यवस्था भी की जाएगी जिसके तहत मुख्य सरकारी कार्यों में कांट्रैक्ट सिस्टम मजदूरी की व्यवस्था को समाप्त किया जाएगा।हिस्सेदारी न्याय के तहत सामाजिक-आर्थिक समानता के लिए हर व्यक्ति, हर वर्ग की गिनती होगी और आरक्षण का हक दिया जाएगा जिसके तहत अनुसूचित जाति जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग को 50 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा।

राहुल गांधी ने कहा कि यह चुनाव उन लोगों को हटाने के लिए है जो देश के संविधान और लोकतंत्र को ध्वस्त करना चाहते हैं। यह चुनाव लोकतंत्र और संविधान को बचाने का चुनाव है। उनका कहना था कि एक तरफ मोदी तथा राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन लोकतंत्र और संविधान पर आक्रमण कर रहा है तो दूसरी तरफ इंडिया समूह लोकतंत्र और संविधान की रक्षा कर रहा है। ये चुनाव इन दो शक्तियों के बीच है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि यह चुनाव संविधान और लोकतंत्र को खत्म करने तथा लोकतंत्र एवं संविधान को बचाने वालों की बीच है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस चुनाव जीतेगी तो सबका हित सध जाएगा और इसी दृष्टि को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस ने कहा है कि हाथ बदलेगा हालत। उनका कहना था कि देश के उद्योगों पर गिनती के लोगों का अधिकार नहीं, इसमें प्रतिस्पर्धा रहनी चाहिए।कांग्रेस नेता ने कहा “यह चुनाव मौलिक रूप से अलग है। मुझे नहीं लगता कि लोकतंत्र आज जितना ख़तरे में है पहले कभी ऐसे हालात रहे होंगे। 

 मोदी ने ईडी सीबीआई जैसी तमाम संस्थाओं को कैप्चर करके फाइनेंशियल मोनोपॉली बना ली है। लेकिन अब इलेक्टोरल बांड की सारी जानकारी सामने आ गई है। किससे उगाही हुई,किसको कॉन्ट्रैक्ट दिया है,कॉन्ट्रैक्ट के बाद कितना पैसा दिया है। इसका पूरा ब्लूप्रिंट सामने आ गया है इसलिए श्री मोदी डरे हुए हैं और 400 पार का नंबर आया है। क्योंकि उन्हें पता है 180 पार नहीं होने वाला।

” चिदंबरम ने कहा “कांग्रेस की गारंटी ठोस गारंटी है जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गारंटी केवल तीसरी बार चुनाव जीतने के लिए है। श्री मोदी बताएं कि दो करोड़ नौकरियों की गारंटी का क्या हुआ। हर भारतीय के खाते में 15 लाख की गारंटी का क्या हुआ। किसानों की आय दोगुनी करने की गारंटी का क्या हुआ। देश की जीडीपी को 05 ट्रिलियन डॉलर तक बढ़ाने की गारंटी का क्या हुआ।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here