मित्र बना जल्लाद:3.64 लाख रुपये की लालच में दोस्त की निर्मम हत्या

राधा गोविन्द ऑटोमोबाइल कंपनी में काम करने वाले धर्मेंद्र आर्य की उसके करीबी मित्र रोहित ने 3.64 लाख रुपये की लालच में निर्मम हत्या कर दी।

मुज़फ्फरनगर,(Shah Times) । उत्तर प्रदेश के मुज़फ्फरनगर के पॉश कॉलोनी वसुंधरा में एक दिल दहला देने वाला घटना सामने आई है। राधा गोविन्द ऑटोमोबाइल कंपनी में काम करने वाले धर्मेंद्र आर्य (35) की उसके करीबी मित्र रोहित ने 3.64 लाख रुपये की लालच में निर्मम हत्या कर दी। घटना का खुलासा तब हुआ जब पुलिस ने रोहित को हिरासत में लेकर पूछताछ की।

धर्मेंद्र आर्य, अवध विहार निवासी, और रोहित, जो मूल रूप से दिल्ली के कृष्णा नगर के निवासी हैं और वर्तमान में वसुंधरा कॉलोनी में रहते हैं, दोनों जानसठ रोड स्थित ऑटोमोबाइल कंपनी में साथ काम करते थे। दो महीने पहले रोहित ने काम छोड़ दिया था। शनिवार को धर्मेंद्र आर्य कंपनी से 3.64 लाख रुपये और चेक लेकर बैंक में जमा करने के लिए निकला था, लेकिन इसके बाद वह लापता हो गया।

धर्मेंद्र के गायब होने के बाद परिजन और कंपनी के कर्मचारी उसकी तलाश में जुट गए। शक होने पर पुलिस ने रोहित को हिरासत में लिया और पूछताछ की, जिसके बाद घटना का खुलासा हुआ।

पुलिस के अनुसार, धर्मेंद्र आर्य रुपये लेकर रोहित के वसुंधरा कॉलोनी स्थित घर पर आया था। वहां दोनों के बीच रुपयों के लेन-देन को लेकर विवाद हो गया। रोहित ने धारदार हथियार से वार कर धर्मेंद्र की हत्या कर दी। शव को टुकड़ों में बदलकर तीन दिन तक घर में ही छिपाए रखा।

सोमवार शाम करीब चार बजे, धर्मेंद्र का शव मंसूरपुर थाना क्षेत्र के जड़ौदा गांव के पास एक होटल के पीछे बोरे में बंद मिला। पुलिस ने आरोपी को पकड़ लिया और उसके पास से नकदी बरामद कर ली है।

इस हृदयविदारक घटना ने पूरे इलाके में सनसनी फैला दी है। पुलिस मामले की गहनता से जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here