लेबर पार्टी के कीर स्टार्मर ने ब्रिटेन के पीएम का पदभार संभाला

कीर स्टार्मर ने अपनी पार्टी के 326 सीटों के बहुमत के आंकड़े तक पहुंचने के कुछ समय बाद आधिकारिक तौर पर ब्रिटेन के 58वें प्रधानमंत्री बन गए।

लंदन ,(Shah Times) । ब्रिटेन में लेबर पार्टी के नेता कीर स्टार्मर ने नए प्रधानमंत्री का पदभार संभाल लिया है। लेबर पार्टी ने आम चुनावों में भारी बहुमत हासिल किया और कंजरवेटिव पार्टी के 14 साल के शासन का अंत हुआ। कंजरवेटिव को शुक्रवार को हुए मतदान में देश के इतिहास में सबसे बुरी हार का सामना करना पड़ा।

बीबीसी के अनुसार भारतीय मूल के निवर्तमान प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने सत्तारूढ़ कंजर्वेटिव पार्टी की हार स्वीकार कर ली और घोषणा की कि वह कंजरवेटिव पार्टी के नेता के रूप में पद छोड़ देंगे।

650 सदस्यों वाली ब्रिटिश संसद में जहाँ केवल एक सीट की गिनती बाकी है लेबर पार्टी ने पहले ही 412 सीटों पर जीत हासिल कर ली है जो एग्जिट पोल के 410 सीटों के अनुमान से कहीं ज़्यादा है। 2019 के आम चुनाव में लेबर पार्टी को 202 सीटें मिली थीं।

कंजर्वेटिव पार्टी 2010 से लगातार देश पर शासन कर रही थी को केवल 121 सीटें मिलीं जो पाँच साल पहले के चुनावों की तुलना में 251 सीटों का भारी नुकसान है।

ब्रिटेन ब्रॉडकास्टर स्काई न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार कीर स्टार्मर ने अपनी पार्टी के 326 सीटों के बहुमत के आंकड़े तक पहुंचने के कुछ समय बाद आधिकारिक तौर पर ब्रिटेन के 58वें प्रधानमंत्री बन गए। बकिंघम पैलेस में किंग चार्ल्स तृतीय ने उनसे मुलाकात की। उन्होंने 62 वर्षीय बैरिस्टर को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया।

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार श्री स्टार्मर ने प्रधानमंत्री के रूप में अपना पहला भाषण देते हुए राजनीति में विश्वास बहाल करने और ”सेवा की सरकार” बनाने का वादा किया।

इसके तुरंत बाद  स्टार्मर ने लेबर पार्टी की उपनेता एंजेला रेनर को उप प्रधानमंत्री नियुक्त किया जबकि यवेट कूपर गृह मंत्री बनीं और डेविड लैमी को नया विदेश मंत्री नियुक्त किया गया। राहेल रीव्स को ब्रिटेन की पहली महिला चांसलर नियुक्त किया गया।

चुनाव परिणामों में लिबरल डेमोक्रेट्स ने 71 सीटों पर प्रभावशाली जीत दर्ज की, जबकि पिछली बार उन्हें आठ सीटें मिली थीं। स्कॉटिश नेशनल पार्टी और सिन फेन ने क्रमशः नौ और सात सीटें जीतीं। दक्षिणपंथी रिफॉर्म यूके ने पांच सीटें जीतीं। 24 सीटें निर्दलीय और अन्य पार्टियों को मिली हैं।

इससे पहले दिन में  स्टार्मर ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी स्वतंत्र उम्मीदवार एंड्रयू फीनस्टीन को 11,572 मतों से हराकर होलबोर्न और सेंट पैनक्रास सीट बरकरार रखी।

 स्टार्मर ने अपनी जीत के तुरंत बाद कहा, ”हमने यह कर दिखाया… बदलाव अब शुरू होता है।”

दूसरी ओर श्री सुनक अपने रिचमंड और नॉर्थलेर्टन निर्वाचन क्षेत्र को बचाने में कामयाब रहे, लेकिन बड़ी संख्या में कंजर्वेटिव दिग्गजों को ”स्टार्मर सुनामी” के नाम से जाना जाने वाला झटका लगा।

हार का सामना करने वाले प्रमुख कंजर्वेटिवों में पूर्व प्रधानमंत्री लिज़ ट्रस, रक्षा मंत्री ग्रांट शैप्स, न्याय मंत्री एलेक्स चाक और प्रौद्योगिकी मंत्री मिशेल डोनेलन सहित बारह मंत्री, हाउस ऑफ कॉमन्स के नेता पेनी मोर्डंट और पूर्व कैबिनेट सदस्य जैकब रीस-मोग शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here