योग दिवस पर पीएम मोदी ने देशवासियों से क्या कहा

नई दिल्ली, (शाह टाइम्स)अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (21जून) के मौके पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में योग किया। आपकों बता दें कि PM मोदी हर साल योग दिवस के मौके पर देश के अलग-अलग शहरों में योग करते हुए आए हैं। लेकिन अब की बार पीएम मोदी ने योग दिवस के मौके पर श्रीनगर के शेर-ए-कश्मीर इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस सेंटर में आयोजित मुख्य समारोह का नेतृत्व किया। जिसमें सबसे पहले पीएम मोदी ने जनता को संबोधित किया और फिर योग करना आरम्भ किया।

International Yoga Day: PM Modi ने लोगों से की यह खास अपील - Mark International Day of Yoga with family, follow social distancing: PM Modi

योग करने के दौरान हल्की- हल्की बारिश हो रही थी, जिस वजह से उनके सेंटर के भीतर ही योग करने का कार्यक्रम आयोजित किया गया था।

योग करने वाले लोगों से की मुलाकात

योग खत्म करने के बाद वह बाहर आए तो उन्होंने डल झील के किनारे योग करने वाले लोगों मुलाकात की। इस दौरान पीएम मोदी ने उनके साथ कई तरह की सेल्फी भी ली। आखिर में पीएम मोदी ने योग के फायदे बताते हुए जनता को संबोधित भी किया. ऐसे में आइए पीएम मोदी के योग से पहले और बाद में दिए गए संबोधन की बड़ी बातें जानते हैं.

योग करते हुए पीएम मोदी ने दिए जरुरी दिशा निर्देश

  1. सर्वप्रथम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की देशवासियों को शुभकामनाएं दीं और कहा कि आज पूरी दुनिया में योग करने वालों की संख्या निरंतर बढ़ रही है और योग के प्रति लोगों का आकर्षण भी लगातार बढ़ रहा है।
  2. पीएम मोदी ने कहा कि, अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर मुझे योग और साधना की भूमि कश्मीर में आने का सौभाग्य मिला है। कहा योग से हमें जो शक्ति मिलती है, श्रीनगर में हम उसे ओर भी अच्छा महसूस कर रहे हैं। मैं देश के सभी लोगों को और दुनिया के कोने-कोने में योग कर रहे लोगों को कश्मीर की धरती से अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की बधाई देता हूं।
  3. पीएम मोदी ने SKICC में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि जब हमारा चित्त शांत रहता है तब हम दुनिया पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं। योग समाज में सकारात्मक बदलाव के नए तरीके बना रहा है।
  4. अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि योग ने लोगों को यह महसूस कराने में मदद की है कि उनका कल्याण उनके आसपास की दुनिया के कल्याण से जुड़ा हुआ है। पीएम ने कहा कि बारिश की वजह से यहां ठंड भी बढ़ गई है।
  5. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि योग को दुनिया कैसे देख रही है। उन्होंने कहा कि दुनिया योग को वैश्विक भलाई के एक शक्तिशाली माध्यम के रूप में देख रही है। योग हमें अतीत के बोझ के बिना वर्तमान क्षण में जीने में मदद करता है।
  6. PM ने आगे कहा कि साल 2014 में उन्होंने संयुक्त राष्ट्र में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का प्रस्ताव रखा था और भारत के इस प्रस्ताव का 177 देशों ने समर्थन भी किया था जो कि अपने आप में एक रिकॉर्ड बना था। उन्होंने कहा, तब से योग दिवस लगातार नए रिकॉर्ड बनाता जा रहा है।
  7. पीएम मोदी ने कहा कि पूरे जम्मू-कश्मीर में योग के प्रति जो आकर्षण बना है, जिस उमंग और उत्साह के साथ लोग योग के साथ जुड़ने के लिए आतुर हैं, वह जम्मू कश्मीर के पर्यटन को भी एक नई ताकत देने का अवसर बन गया है।
  8. योग करने के बाद पीएम मोदी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि जब योग स्वाभाविक रूप से जीवन का हिस्सा बन जाता है, तो इसका हर पल लाभ होता है. उन्होंने कहा कि युग के लिए योग है। योग से ही समाज का निर्माण होगा। योग आगे जा रहा है और लोगों को इसे अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए।
  9. पीएम मोदी ने योग का महत्व बताते हुए कहा कि जिस तरह से टूथब्रश करना और बाल संवारना जीवन का हिस्सा बन जाता है। ठीक वैसे ही जब योग जीवन से जुड़ता है तो उसका हर पल फायदा मिलता है।
  10. ध्यान के महत्व के बारे में बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ध्यान को लेकर धार्मिक यात्रा के तौर पर देखते हैं। कोई अल्लाह को प्राप्त करने का या ईश्वर को प्राप्त करने का या गॉड को प्राप्त करने का कोई साक्षात्कार कार्यक्रम है। लोगों को लगता है कि वे ऐसा नहीं कर सकते हैं। हालांकि, ध्यान हमारे फोकस या कहें हमारा चीजों पर कितना ध्यान है, उससे जुड़ा हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here