मतदान में बाधा डालने वालों के मकान होंगे जमींदोज

कलेक्टर ओर पुलिस अधीक्षक ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि मतदान के लिए जिला प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए हैं। उन्होंने कहा कि मतदान शांतिपूर्ण ओर निष्पक्ष कराने के लिये पांच हजार सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया है।

मुरैना, (Shah Times )। मध्यप्रदेश के मुरैना जिले में कल लोकसभा चुनाव के मतदान में कोई भी व्यक्ति मतदान प्रक्रिया को बाधित करेगा उसके मकान को जमींदोज किया जाएगा।कलेक्टर अंकित अस्थाना ओर पुलिस अधीक्षक शेलेन्द्र सिंह चौहान ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि मतदान के लिए जिला प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए हैं। उन्होंने कहा कि मतदान शांतिपूर्ण ओर निष्पक्ष कराने के लिये पांच हजार सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया है। वहीं प्रत्येक पोलिंग बूथ पर सीसीटीव्ही कैमरे की भी व्यवस्था रहेगी जो मतदान प्रक्रिया की हर गतिविधि को कैमरे में कैद करेगी।उन्होंने कहा कि जो संवेदनशील और अतिसंवेदनशल मतदान केन्द्र चिन्हित किये गये हैं, वहां भी सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस व एसएफ बल तैनात रहेगा। प्रचार प्रसार थमने के बाद बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। इसके लिए जिले की सीमाओं पर भी सघन चैकिंग की जा रही है।

उन्होंने बताया कि अब संवेदनशील 694 मतदान केंद्रों के इर्द-गिर्द जेसीबी मशीन रखी गई है। किसी भी प्रकार की गलत गतिविधि के लिए यह तैयार रखी गई है। मतदान के समय किसी भी प्रकार की गलत गतिविधि करने वालों को नहीं बक्शा जायेगा। पुलिस और प्रशासन शक्ति से निपटेगा |पुलिस अधीक्षक श्री चौहान ने कहा कि लोकसभा चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए करीब पांच हजार सुरक्षाकर्मी तैनात किये गये हैं। जो हर एक पोलिंग बूथ पर अपनी नजर रखेंगे। इसके अलावा जो संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केन्द्र हैं, उन पर भी अतिरिक्त पुलिस व एसएफ बल तैनात रहेगा।कलेक्टर श्री अस्थाना ने बताया कि मतदान के लिए आने वाले मतदाताओं को गर्मी को देखते हुए छाछ और आम पना की भी सुविधा दोपहर 12 से 4 बजे तक दी जायेगी।

इसके अलावा चिकित्सक भी वोटिंग करने के बाद आने वाले लोगों को फ्री में चिकित्सकीय परामर्श दिए जाने की पहल की है। इसके साथ ही ई रिक्शा चालकों ने भी इस मतदान में सहयोग करने का निर्णय लिया है। मतदान करने वाले जो भी ज़रूरतमंद लोग है, उनको निशुल्क उनके मतदान केंद्र पर ले जाएँगे और वापस घर तक पहुंचाएंगे। यदि कोई बुजुर्ग एवं गर्भवती ज़रूरतमंद चिकित्सा केंद्रों तक जाना चाहते है उनको भी वहाँ पहुँचाने में उनकी मदद करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here