Millionaires Leaving India: 2024 में 4300 अमीर देश छोड़ेंगे, जानिए क्यों और कहां जाकर बसेंगे!

भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है और यहां करोड़पतियों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। इसके बावजूद हर साल बड़ी संख्या में अमीर लोग देश छोड़कर दूसरे देशों में जा रहे हैं।

New Delhi, (Shah Times) । भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था है और करोड़पतियों की संख्या में भी लगातार इजाफा हो रहा है। इसके बावजूद, हर साल बड़ी संख्या में अमीर लोग देश छोड़कर अन्य देशों में बस रहे हैं। Henley & Partners की रिपोर्ट के अनुसार, इस साल 4300 करोड़पति भारत छोड़कर अन्य देशों में बस सकते हैं।

इस पलायन के कारण

कराधान नीतियों की जटिलताएं: भारत में उच्च दर के कराधान नीतियों और जटिल नियमों के कारण कई अमीर लोग देश छोड़ रहे हैं।बेहतर जीवनशैली: अमीर लोग बेहतर जीवनशैली, उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं की तलाश में हैं।सुरक्षा चिंताएँ: सुरक्षा के मुद्दे भी इस पलायन का एक प्रमुख कारण हैं।

1कराधान नीतियों की जटिलताएं: भारत में उच्च दर के कराधान नीतियों और जटिल नियमों के कारण कई अमीर लोग देश छोड़ रहे हैं।

2बेहतर जीवनशैली: अमीर लोग बेहतर जीवनशैली, उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं की तलाश में हैं।

3सुरक्षा चिंताएँ: सुरक्षा के मुद्दे भी इस पलायन का एक प्रमुख कारण हैं।

हालांकि, ऐसा नहीं है कि केवल भारत से करोड़पति दूसरे देशों को अपना ठिकाना बना रहे हैं, ये हालात चीन, ब्रिटेन जैसे देशों में बने हुए हैं और भारत की तुलना में यहां से बहुत ज्यादा हाई नेटवर्थ इंडीविजुअल्स (HNI) दूसरे देशों में पहुंचकर बस रहे हैं. Henley & Partners ने ऐसे 10 देशों की लिस्ट जारी की है, जहां से साल 2024 में सबसे ज्यादा एचएनआई बाहर जा सकते हैं और इसमें चीन (China) सबसे आगे है.

कहाँ जा रहे हैं अमीर:
यूएई: सबसे पसंदीदा ठिकाना, जहां 6,700 HNI बसने की योजना बना रहे हैं।

अमेरिका: 3,800 करोड़पति अमेरिका में बस सकते हैं।

सिंगापुर: 3,500 करोड़पति सिंगापुर जा सकते हैं।

कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, इटली, स्विट्जरलैंड, ग्रीस, पुर्तगाल, जापान: इन देशों में भी बड़ी संख्या में अमीर बसने की योजना बना रहे हैं।

अन्य देशों की स्थिति:

चीन :चीन से 15,200 HNI पलायन करने की संभावना है, जो भारत से तीन गुना अधिक है।

ब्रिटेन : 9,500 करोड़पति ब्रिटेन से जा सकते हैं।
साउथ कोरिया, रूस, ब्राजील, साउथ अफ्रीका, ताइवान, नाइजीरिया, विएतनाम : इन देशों से भी उच्च संख्या में अमीर लोग पलायन कर रहे हैं।

खुशी की बात यह है कि भारत से बाहर जाने वाले करोड़पतियों की संख्या में पिछले तीन सालों से कमी आ रही है। 2022 में 7,000 करोड़पति भारत छोड़ चुके थे, जो 2023 में घटकर 5,100 हो गए, और इस साल 4,300 तक पहुंचने की उम्मीद है।

अमीर लोग क्यों छोड़ते हैं अपना देश?

अमीर लोग टैक्स से जुड़े नियमों की जटिलताओं, बेहतर जीवनशैली और उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं की तलाश में देश छोड़ रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया, यूएई और सिंगापुर जैसी जगहें अधिक पसंद की जा रही हैं, क्योंकि यहां टैक्स के नियम लचीले हैं और जीवन की गुणवत्ता बेहतर है।

इस पलायन को रोकने के लिए, भारत को अपने कराधान नीतियों में सुधार और बेहतर बुनियादी सुविधाओं के विकास पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here