कुवैत अग्निकांड में मारे गए भारतीयों के शव लेकर विमान भारत पहुंचा

कुवैत से जैसे ही 45 भारतीयों के शव लेकर वायुसेना का विशेष विमान लैंड हुआ, हर आंख नम हो गई।

~ Nelaam Saini

नई दिल्ली,(Shah Times) । कुवैत अग्निकांड में मारे गए 45 भारतीयों के शवों को लेकर विमान भारत पहुंच गया है। कोच्चि एयरपोर्ट पर आज सुबह से ही सन्नाटा पसरा हुआ था। कुवैत से जैसे ही 45 भारतीयों के शव लेकर वायुसेना का विशेष विमान लैंड हुआ, हर आंख नम हो गई। मरने वालों के परिजन सुबह से ही एयपोर्ट पर अपने परिवार के उस शख्स का इंतज़ार कर रहे थे जिसे वो आज आखिरी बार देख सकेंगे।

इस दौरान केरल सरकार के मंत्री, आला अधिकारी और भारी संख्या में पुलिस बल भी एयरपोर्ट पर मौजूद था। भारतीय वायुसेना के सी-130 जे परिवहन विमान से 31 भारतीयों के पार्थिव शरीर को कोच्चि में उतारा गया। यहां से शवों को उनके घर के लिए रवाना कर दिया गया।

कुवैत अग्निकांड में मारे गए 31 मृतकों में से केरल के 23, तमिलनाडु के 7 और कर्नाटक का एक व्यक्ति शामिल है। इस घटना में मारे गए उत्तर भारत के कामगारों के शवों को लेकर विमान शाम तक दिल्ली पहुंचेगा।

कुवैत में आग की घटना के पीड़ितों के पार्थिव शरीर को कोच्चि अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उनके परिवारों को सौंपा गया। केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन, विदेश राज्य मंत्री कीर्ति वर्धन सिंह, केंद्रीय मंत्री सुरेश गोपी और अन्य मंत्रियों ने कोचीन अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कुवैत में आग की घटना के पीड़ितों के पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि अर्पित की। इससे पहले गुरुवार देर रात प्लेन शवों को लेकर रवाना हुआ था।

कुवैत स्थित भारतीय दूतावास ने बताया, “कुवैत में आग की घटना में 45 भारतीय पीड़ितों के पार्थिव शरीर को लेकर एक विशेष भारतीय वायुसेना का विमान कोच्चि के लिए रवाना हुआ। राज्यमंत्री जिन्होंने कुवैती अधिकारियों के साथ समन्वय करके शीघ्र वापसी सुनिश्चित की वो भी इसी विमान में सवार हैं।

केरल के मंत्री के राजन, पी राजीव और वीना जॉर्ज ने अधिकारियों के साथ व्यवस्थाओं पर बात चीत की तथा मृतकों के परिजनों को सांत्वना दी। विपक्ष के नेता वी डी सतीशन और भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष के सुरेंद्रन ने भी मृतकों के परिजनों से मुलाकात की। इस दौरान केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता सुरेश गोपी भी यहां मौजूद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here