अमेरिकी प्रपोजल पर इजरायल हमास के साथ कैदियों की अदला-बदली पर राज़ी 

Israel Hamas US proposal

सीआईए के निदेशक बिल बर्न्स ने यह प्रपोजल दिया है और इसमें हमास द्वारा 40 इजरायली बंधकों की रिहाई के बदले में इजरायल द्वारा लगभग 700 फिलिस्तीनी कैदियों की रिहाई शामिल है।

वाशिंगटन,(Shah Times )। इजरायल गाजा पट्टी में फिलिस्तीनी आंदोलन हमास द्वारा बंधक बनाए गए इजरायली बंधकों की रिहाई के बदले फिलिस्तीनी कैदियों को रिहा करने के अमेरिकी प्रस्ताव पर राज़ी हो गया है और इस पर हमास की प्रतिक्रिया का इंतजार कर रहा है। 

       यह जानकारी सीएनएन ने सूत्रों के हवाले से दी रिपोर्ट के मुताबिक, सीआईए के निदेशक बिल बर्न्स ने यह प्रस्ताव दिया है और इसमें हमास द्वारा 40 इजरायली बंधकों की रिहाई के बदले में इजरायल द्वारा लगभग 700 फिलिस्तीनी कैदियों की रिहाई शामिल है।रिपोर्ट में कहा गया कि हालांकि, गाजा पट्टी को मानवीय सहायता पहुंचाने और एन्क्लेव में इजरायली सेना की तैनाती सहित अन्य मुद्दों पर अभी तक कोई समझौता नहीं हुआ है।

 रविवार को, एक्सियोस समाचार पोर्टल के इजरायली रिपोर्टर बराक रविद ने अनाम इजरायली अधिकारियों का हवाला देते हुए एक्स पर लिखा कि अमेरिकी प्रस्ताव में इजरायलियों की हत्या के लिए आजीवन कारावास की सजा काट रहे 100 फिलिस्तीनियों की रिहाई भी शामिल है, जो तीन सप्ताह पहले कतर मध्यस्थों द्वारा दिए गए प्रस्ताव से कम है।

रविद ने कहा कि इजरायल ने कतर के प्रस्ताव को खारिज कर दिया क्योंकि हमास पेरिस वार्ता के दौरान रखे गए प्रस्ताव का जवाब देने में विफल रहा था, जिसमें 400 कैदियों की रिहाई शामिल थी, जिनमें से 25 आजीवन कारावास की सजा काट रहे हैंइज़राइल उत्तरी गाजा पट्टी में फिलिस्तीनी नागरिकों की वापसी पर एक अमेरिकी “ब्रिजिंग प्रस्ताव” पर चर्चा करने के लिए भी तैयार है, जिसे पत्रकार ने वार्ता में विवाद के मुख्य बिंदुओं में से एक के रूप में वर्णित किया है।

पिछले अक्टूबर में, हमास ने गाजा पट्टी से इजरायल के खिलाफ बड़े पैमाने पर रॉकेट हमले शुरू किया और सीमा का उल्लंघन किया, जिसमें 1,200 लोग मारे गए और लगभग 240 अन्य का अपहरण कर लिया गया। इज़राइल ने जवाबी हमले शुरू किया, गाजा की पूरी तरह से नाकाबंदी का आदेश दिया और हमास लड़ाकों को खत्म करने और बंधकों को बचाने के घोषित लक्ष्य के साथ फिलिस्तीनी एन्क्लेव में एक जमीनी घुसपैठ शुरू किया। स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि गाजा पट्टी में अब तक 32,200 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here